0521 msi plant t - India biggest carmaker Maruti Suzuki cuts temporary jobs as
sales plunge 
घटाई, बिक्री में गिरावट का असर

India biggest carmaker Maruti Suzuki cuts temporary jobs as sales plunge घटाई, बिक्री में गिरावट का असर

हिंदी न्युज


जून के आखिर तक अस्थाई कर्मचारी की संख्या 18845 रह गई, पिछले
साल की पहली छमाही के मुकाबले 1181 कम

मारुति के अस्थाई कर्मचारियों की संख्या में पहली बार कमी आई,
क्योंकि बिक्री लगातार घट रही, प्रोडक्शन भी कम हुआ

जुलाई में बिक्री 33.5% घटकर 1.09 लाख यूनिट रह गई, जनवरी-जून
में कंपनी ने प्रोडक्शन 10.3% कम किया

Dainik Bhaskar
Aug 03, 2019, 02:12 PM IST

नई दिल्ली. मारुति सुजुकी इंडिया के अस्थाई
कर्मचारियों की संख्या इस साल की पहली छमाही (जनवरी-जून) में
1,181 घटकर 18,845 रह गई। यह 2018 की पहली छमाही के मुकाबले 6% कम
है। पहली बार मारुति के अस्थाई कर्मचारियों की संख्या में कमी आई
है। छंटनी प्रक्रिया में अप्रैल से ज्यादा तेजी आई। ऑटो इंडस्ट्री
में स्लोडाउन की वजह से कंपनी ने ऐसा किया। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स
ने शुक्रवार को यह रिपोर्ट दी। 

 

10 साल में ऑटो इंडस्ट्री का सबसे खराब दौर:
रिपोर्ट

रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से बताया कि स्लोडाउन खत्म होने तक
मारुति नई भर्तियां भी नहीं करेगी। हालांकि, कंपनी ने इस बारे में
आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा है। मारुति ने कुछ समय पहले कहा था
कि उसने पहली छमाही में प्रोडक्शन में 10.3% कटौती की है। जुलाई
में कंपनी की बिक्री भी 33.5% घट गई। रिपोर्ट के मुताबिक ऑटो
इंडस्ट्री 10 साल के सबसे खराब दौर से गुजर रही है। वाहनों की
बिक्री में लगातार गिरावट आ रही है। हालात जल्द सुधरने की उम्मीद
काफी कम है।

 

ऑटो इंडस्ट्री के स्लोडाउन से बेरोजगारी बढ़ने का
खतरा

डेटा ग्रुप सीएमआईई के मुताबिक देश में बेरोजगारी की दर जुलाई में
7.51% पहुंच गई। पिछले साल जुलाई में 5.66% थी। इसमें दिहाड़ी
मजदूरों के आंकड़े शामिल नहीं हैं। रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक
अर्थशास्त्री बेरोजगारी के सरकारी आंकड़ों अमान्य और अविश्वसनीय
बता रहे हैं। ऑटो इंडस्ट्री के स्लोडाउन से स्थिति और बिगड़ सकती
है।

 

19d88756 0d45 4704 a8c4 34ae5a7c6de5 - India biggest carmaker Maruti Suzuki cuts temporary jobs as
sales plunge 
घटाई, बिक्री में गिरावट का असर

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *